Saturday, 28 May 2016

गरम पानी में पैरों को डुबोने के फायदे

गरम पानी में पैरों को डुबोने के फायदे

 


सोचिये वो एहसास कितना सुकून भरा होता है जब आप बाजार से शॉपिंग कर के थक-थका कर घर आएं और कोई आपके लिये गरम पानी से भरा टब पैरो के नीचे रख दे और फिर आप उसमें अपने पैरों को डुबो कर अपने शरीर की सारी थकान मिटाएं। है ना कमाल का एहसास?

पैरों में होने वाले दर्द का कारण और उपचार
जी हां, गरम पानी में पैर डुबोने से ना केवल शरीर की थकान मिटाई जा सकती है बल्‍कि इससे अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी मिलते हैं। पैरों को गरम पानी में डुबोने से मासपेशियों की थकान मिटती है, दर्द और सूजन से भी राहत मिलती है।

आपको करना केवल इतना है कि एक बाल्‍टी में गरम पानी भरिये और उसमें थोड़ा सा नमक मिला कर पैरों को डुबो लीजिये। कई लोग रात को सोने से पहले पैरों को डुबोते हैं जिससे उन्‍हें अच्‍छी नींद आ सके।
पैरों से पता चलता है कौन सी बीमारी है आपको

शाम को पैर डुबोने के फायदे 
लेकिन सबसे अच्‍छा समय होता है शाम 5 बजे से 7 बजे का। इस दौरान आपकी किडनियों की एनर्जी बढ़ती है और खून का संचार तेज होता है। ऐसा करने के बाद अपने तलवों की तेल से मालिश करें, खासतौर पर एडियों की।

सुबह पैर डुबोने के फायदे .....
सुबह के दौरान गरम पानी में पैरों को डुबोने से एनर्जी बढ़ती है। रातभर एक ही पोजिशन में सोने से खून का संचार धीमा पड़ जाता है इसलिये अगर सुबह के दौरान अपने पैरों को गरम पानी में डुबोया जाए तो आप पहले से कहीं ज्‍यादा फ्रेश फील करने लगेंगे।

पानी में क्‍या मिलाएं ....
यदि आपको सर्दी-जुखाम है तो पानी के टब में ताजी अदरक की जड़ें डालें। अगर आपको गठिया है तो पानी में दालचीनी या काली मिर्च डाल सकते हैं। पैरों की थकान दूर करने और खुद को रिलैक्‍स करने के लिये लेवेंडर ऑइल या रोजमैरी ऑइल भी मिला सकते हैं।

किसे नहीं डुबोने चाहिये पैर 
वे लोग जिन्‍हें लो बीपी की समस्‍या है, उन्‍हें गरम पानी में पैर डुबोने से बेहोशी आ सकती है। मधुमेह रोगियों को भी इससे बचना चाहिये क्‍योंकि गरम पानी से पैरों की त्‍वचा जल सकती है। यदि आपको काफी तेज भूखे हैं या फिर बहुत ज्‍यादा खा लिया है , तो भी पैरों को गरम पानी में ना डुबोएं।

No comments:

Post a Comment