Tuesday, 31 May 2016

ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार

ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार







इस ब्लड ग्रुप वाले लोगों का इम्यून सिस्टम (प्रतिरक्षा तंत्र) बहुत संवेदनशील होता है तथा उन्हें अपने प्रतिरक्षा तंत्र की अच्छी देखभाल करनी चाहिए। इस ब्लड समूह के लोगों में मांस को पचाने की क्षमता भी कम होती है। अत: उन्हें चिकन, मटन या मछली का सेवन कम करना चाहिए। उन्हें गाजर, आडू, हरी पत्तेदार सब्जियां, अंजीर, नाशपाती, लहसुन, ब्रोकोली और एवोकेडो का सेवन अवश्य करना चाहिए।

ए ब्लड ग्रुप वाले लोगों को सभी प्रकार के दुग्ध उत्पाद, सफ़ेद चांवल और अण्डों का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके स्थान पर वे दही, बकरी के दूध से बने चीज़ या सोया मिल्क का सेवन कर सकते हैं बी ब्लड ग्रुप

आपको अनानास, केले, अंगूर और हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन अधिक करना चाहिए। फिश (मछली) तथा मटन का सेवन अधिक मात्रा में करें। ।बी। ब्लड समूह के लोगों को चिकन के बजाय टर्की खाना चाहिए। बी ब्लड ग्रुप के लिए अंडे और दूध हैं अच्‍छे
बी ब्लड ग्रुप के लिए दुग्ध उत्पाद और अण्डों का सेवन करना सुरक्षित है, क्योंकि वे इसे आसानी से पचा सकते हैं तथा ये चीज़ें उनके शरीर में फैट के रूप में जमा नहीं होती।
ए बी ब्लड ग्रुप
यह बहुत कम लोगों में पाया जाने वाला ब्लड ग्रुप है क्योंकि लगभग 5% लोगों का ही ब्लड ग्रुप ।ए बी। होता है। दुर्भाग्य से ये लोग जो भी मांसाहारी पदार्थ खाते हैं वह इनके शरीर में फैट के रूप में जमा हो जाता है क्योंकि इनके पेट में एसिड की मात्रा कम होती है। अत: ।ए बी। ब्लड ग्रुप वाले लोगों को फल तथा सब्जियां अधिक मात्रा में खाने चाहिए। इस ब्लड ग्रुप वाले लोगों के लिए अंडे भी लाभदायक होते हैं ए बी ब्लड ग्रुप वाले क्‍या खाएं और क्‍या नहीं

ए बी ब्लड ग्रुप वाले लोगों को सभी प्रकार के मांसाहार का कम सेवन करना चाहिए विशेषकर मटन का क्योंकि उनके शरीर में यह सब फैट के रूप में जमा हो जाता है। हालाँकि उनका शरीर दुग्ध उत्पादों को अच्छी तरह पचा सकता है अत: वे चीज़, बटर तथा अन्य दुग्ध उत्पाद खा सकते हैं।
ओ ब्लड ग्रुप
इन ब्लड समूह के लोगों को उच्च प्रोटीन युक्त आहार लेना चाहिए। इसमें दाल, मटन, चिकन आदि शामिल हैं। इन्हें फल, सब्जियों और समुद्री खाद्य पदार्थों की आवश्यकता भी होती है।

हम सभी का एक निश्चित ब्लड ग्रुप होता है और ऐसा देखा गया है कि हमारे स्वास्थ्य की स्थिति और हमारे ब्लड ग्रुप में एक संबंध होता है।
ऐसा भी देखा गया है कि हमारे ब्लड ग्रुप के अनुसार ही हमारी विशिष्ट प्रकृति भी होती है। अब यदि स्वास्थ्य की बात करें तो एक अध्ययन से पता चला है कि ब्लड ग्रुप के अनुसार कुछ विशिष्ट बीमारियों का खतरा अधिक होता है।
उदाहरण के लिए 'ओ' ब्लड ग्रुप वाले लोगों को पेट का अल्सर होने का खतरा अधिक होता है परन्तु हृदय से संबंधित बीमारियों का खतरा कम होता है। उसी प्रकार 'ए' ब्लड ग्रुप वाले लोगों को बैक्टीरिया, वायरस या फंगस से होने वाले संक्रमणों का खतरा अधिक होता है।
'ए' ब्लड ग्रुप वाली महिलाओं में बांझपन की समस्या का खतरा अधिक होता है। 'ए बी' और ।बी। ब्लड ग्रुप वाले लोगों को अग्नाशय का कैंसर (पैन्क्रीऐटिक कैंसर) होने का खतरा अधिक होता है।
हालाँकि यदि आप अपने ब्लड ग्रुप के अनुसार उत्तम आहार लेकर उचित सावधानी बरतें तो कुछ बीमारियों के खतरे को टाला जा सकता है। अपने ब्लड ग्रुप के अनुसार कौन से खाद्य पदार्थ खाएं

[ मित्रो इस पोस्ट को भी जरूर पढ़िए ]

No comments:

Post a Comment