Tuesday, 31 May 2016

जोड़ो का दर्द, कमर दर्द, गठिया में विशेष उपचार

जोड़ो का दर्द, कमर दर्द, गठिया में विशेष उपचार 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]

चन्दन से स्किन में आती ग्लो। एक बार जरूर पढ़िए

पांच दिनों में गोरी त्वचा पाने के घरेलु नुस्खे टिप्स 3

पांच दिनों में गोरी  त्वचा पाने के घरेलु नुस्खे टिप्स 3

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]
चन्दन से स्किन में आती ग्लो। एक बार जरूर पढ़िए


चन्दन से स्किन में आती ग्लो। एक बार जरूर पढ़िए

चन्दन से स्किन में आती ग्लो। एक बार जरूर पढ़िए 

[ मित्रो इसे भी जरूर पढ़िए ]

फलों और सब्जियों का सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो जाता है

फलों और सब्जियों का सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो जाता है

फलों और सब्जियों का सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो जाता है 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]


पेट की चर्बी घटाने के लिए ये प्रयोग जरूर करे। एक बार जरूर पढ़िए

पेट की चर्बी घटाने के लिए  ये प्रयोग जरूर करे। एक बार जरूर पढ़िए 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]

सफेद बालों के लिए पांच घरेलू नुस्‍खे

सफेद बालों के लिए पांच घरेलू नुस्‍खे

सफेद बालों के लिए पांच घरेलू नुस्‍खे

 






बालों के असमय सफेद होने के हो सकते हैं कई संभावित कारण।
बालों पर प्‍याज का रस लगाने से असमय सफेद नहीं होते बाल।
नींबू और आंवला मिलाकर सिर पर लगाने से भी होता है फायदा।
घी की मालिश करने से भी असमय सफेद नहीं होते आपके बाल।

आइये दादी मां की पोटली से निकले कुछ ऐसे ही नस्‍खों के बारे में जानते हैं जो, वक्‍त से पहले आपके बालों को पकने से रोकेंगे। और सफेद बालों को काला करने में भी मदद करेंगे वो भी बिना किसी हानिकारक केमिकल के। ये उपाय बरसों से आजमाये जाते रहे हैं और भी काफी प्रचलित हैं।
बाल खूबसूरती का पैमाना होते हैं और कई मामलों में सेहत का भी। लेकिन, आजकल प्रदूषण की मार हमारे बालों को भी प्रभावित कर रही है। और ऊपर से हानिकारक कैमिकल युक्‍त उत्‍पादों का इस्‍तेमाल बालों पर और भी बुरा असर डालते हैं। नतीजा, समय से पहले ही बाल पककर सफेद होने लगते हैं। लेकिन, बालों को वक्‍त से पहले ही सफेद होने से बचाने के लिए कई घरेलू नुस्‍खे बहुत कारगर साबित होते हैं।
प्‍याज का पेस्‍ट, वैरी बॅस्‍ट
प्‍याज आपके सफेद बालों को काला करने में मदद करता है। कुछ दिनों तक रोजाना नहाने से कुछ देर पहले अपने बालों में प्‍याज का पेस्‍ट लगायें। इससे आपके सफेद बाल तो काले होने शुरू हो ही जाएंगे, लेकिन साथ ही बालों का गिरना भी रुक जाएगा।
नींबू और आंवला करे कमाल
 

रोज एक चम्‍मच जीरे के सेवन से तीन गुना तेजी से कम होता है फैट

 रोज एक चम्‍मच जीरे के सेवन से तीन गुना तेजी से कम होता है फैट

 
वजन कम करना एक समस्‍या की तरह है।
 जीरे का सेवन रोज करने से घटता है वजन।
 यह फैट के अवशोषण को बाधित करता है। 
 जीरे के सेवन से पाचनतंत्र होता है दुरूस्त।
● जीरा, एक ऐसा मसाला है जो खाने में बेहतरीन स्वाद और खुशबू देता है। इसकी उपयोगिता केवल खाने तक ही सीमित नहीं है बल्कि इसके कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं। कई रोगों में दवा के रूप में इसका इस्‍तेमाल किया जाता है। जीरे में मैंगनीज, लौह तत्व, मैग्नीशियम, कैल्शियम, जिंक और फॉस्फोरस भरपूर मात्रा में होता है। इसे मेक्सीको, इंडिया और नार्थ अमेरिका में बहुत उपयोग किया जाता है। इसकी सबसे खासियत यह है कि यह वजन तेजी से कम करता है। इस लेख में विस्‍तार से जानिये कैसे जीरे के सेवन से कम होता है वजन।

ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार

ब्‍लड ग्रुप के अनुसार कैसा होना चाहिये आपका आहार







इस ब्लड ग्रुप वाले लोगों का इम्यून सिस्टम (प्रतिरक्षा तंत्र) बहुत संवेदनशील होता है तथा उन्हें अपने प्रतिरक्षा तंत्र की अच्छी देखभाल करनी चाहिए। इस ब्लड समूह के लोगों में मांस को पचाने की क्षमता भी कम होती है। अत: उन्हें चिकन, मटन या मछली का सेवन कम करना चाहिए। उन्हें गाजर, आडू, हरी पत्तेदार सब्जियां, अंजीर, नाशपाती, लहसुन, ब्रोकोली और एवोकेडो का सेवन अवश्य करना चाहिए।

ए ब्लड ग्रुप वाले लोगों को सभी प्रकार के दुग्ध उत्पाद, सफ़ेद चांवल और अण्डों का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके स्थान पर वे दही, बकरी के दूध से बने चीज़ या सोया मिल्क का सेवन कर सकते हैं बी ब्लड ग्रुप

आपको अनानास, केले, अंगूर और हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन अधिक करना चाहिए। फिश (मछली) तथा मटन का सेवन अधिक मात्रा में करें। ।बी। ब्लड समूह के लोगों को चिकन के बजाय टर्की खाना चाहिए। बी ब्लड ग्रुप के लिए अंडे और दूध हैं अच्‍छे
बी ब्लड ग्रुप के लिए दुग्ध उत्पाद और अण्डों का सेवन करना सुरक्षित है, क्योंकि वे इसे आसानी से पचा सकते हैं तथा ये चीज़ें उनके शरीर में फैट के रूप में जमा नहीं होती।
ए बी ब्लड ग्रुप
यह बहुत कम लोगों में पाया जाने वाला ब्लड ग्रुप है क्योंकि लगभग 5% लोगों का ही ब्लड ग्रुप ।ए बी। होता है। दुर्भाग्य से ये लोग जो भी मांसाहारी पदार्थ खाते हैं वह इनके शरीर में फैट के रूप में जमा हो जाता है क्योंकि इनके पेट में एसिड की मात्रा कम होती है। अत: ।ए बी। ब्लड ग्रुप वाले लोगों को फल तथा सब्जियां अधिक मात्रा में खाने चाहिए। इस ब्लड ग्रुप वाले लोगों के लिए अंडे भी लाभदायक होते हैं ए बी ब्लड ग्रुप वाले क्‍या खाएं और क्‍या नहीं

ए बी ब्लड ग्रुप वाले लोगों को सभी प्रकार के मांसाहार का कम सेवन करना चाहिए विशेषकर मटन का क्योंकि उनके शरीर में यह सब फैट के रूप में जमा हो जाता है। हालाँकि उनका शरीर दुग्ध उत्पादों को अच्छी तरह पचा सकता है अत: वे चीज़, बटर तथा अन्य दुग्ध उत्पाद खा सकते हैं।
ओ ब्लड ग्रुप
इन ब्लड समूह के लोगों को उच्च प्रोटीन युक्त आहार लेना चाहिए। इसमें दाल, मटन, चिकन आदि शामिल हैं। इन्हें फल, सब्जियों और समुद्री खाद्य पदार्थों की आवश्यकता भी होती है।

हम सभी का एक निश्चित ब्लड ग्रुप होता है और ऐसा देखा गया है कि हमारे स्वास्थ्य की स्थिति और हमारे ब्लड ग्रुप में एक संबंध होता है।
ऐसा भी देखा गया है कि हमारे ब्लड ग्रुप के अनुसार ही हमारी विशिष्ट प्रकृति भी होती है। अब यदि स्वास्थ्य की बात करें तो एक अध्ययन से पता चला है कि ब्लड ग्रुप के अनुसार कुछ विशिष्ट बीमारियों का खतरा अधिक होता है।
उदाहरण के लिए 'ओ' ब्लड ग्रुप वाले लोगों को पेट का अल्सर होने का खतरा अधिक होता है परन्तु हृदय से संबंधित बीमारियों का खतरा कम होता है। उसी प्रकार 'ए' ब्लड ग्रुप वाले लोगों को बैक्टीरिया, वायरस या फंगस से होने वाले संक्रमणों का खतरा अधिक होता है।
'ए' ब्लड ग्रुप वाली महिलाओं में बांझपन की समस्या का खतरा अधिक होता है। 'ए बी' और ।बी। ब्लड ग्रुप वाले लोगों को अग्नाशय का कैंसर (पैन्क्रीऐटिक कैंसर) होने का खतरा अधिक होता है।
हालाँकि यदि आप अपने ब्लड ग्रुप के अनुसार उत्तम आहार लेकर उचित सावधानी बरतें तो कुछ बीमारियों के खतरे को टाला जा सकता है। अपने ब्लड ग्रुप के अनुसार कौन से खाद्य पदार्थ खाएं

[ मित्रो इस पोस्ट को भी जरूर पढ़िए ]

कुछ इस तरह से मोटापे को कम करने के लिए इन वस्तुयों का सुबह उठकर सेवन जरूर करें

कुछ इस तरह से मोटापे को कम करने के  लिए इन वस्तुयों का सुबह उठकर सेवन जरूर करें 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]

वजन कम करने में लगे हैं और केला नहीं खाते, तो पढ़ें

बालों के गिरने की समस्या का उपचार टिप्स 1

बालों के गिरने की समस्या का उपचार टिप्स 1
[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]
इन नुस्खों को अपनाकर अपने पेट की चर्बी को खत्म करें। एक बार जरूर पढ़िए

इन नुस्खों को अपनाकर अपने पेट की चर्बी को खत्म करें। एक बार जरूर पढ़िए

इन नुस्खों को अपनाकर अपने पेट की चर्बी को खत्म करें। एक बार जरूर पढ़िए 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]


लम्बे घने और काले बाल पाने के लिए घरेलु नुस्खे

Monday, 30 May 2016

फिटकरी' जिसने मनुष्य की काया 'फिट' करी उसका नाम 'फिटकरी'

फिटकरी' जिसने मनुष्य की काया 'फिट' करी उसका नाम 'फिटकरी'

 


फिटकरी को लोग सालों से काम में लेते आए हैं. फिटकरी आमतौर पर पानी को साफ़ करने के लिए, सदियों से, प्रायः-प्रायः सभी घरों में प्रयोग की जाती रही है. यह लाल व सफेद दो प्रकार की होती है. अधिकतर सफेद फिटकरी का प्रयोग ही किया जाता है.

फिटकरी के कुछ प्रमुख औषधीय गुण-

१/. a) फिटकरी और कालीमिर्च की बराबर-बराबर मात्रा पीसकर दाँतों की जड़ों में मलने से दाँतों के दर्द में काफी लाभ होता है.

b) फिटकरी को गर्म पानी में घोलकर प्रतिदिन सुबह-शाम कुछ दिनों तक लगातार कुल्ला करने से दाँतों के कीड़े ख़त्म हो जाते हैं व मुँह की बदबू दूर हो जाती है.

c) 100 ग्राम फिटकरी के चूर्ण में 50 ग्राम सैंधा नमक मिलाकर मंजन बना लें. इस मंजन के प्रतिदिन प्रयोग से दाँतों के दर्द में आराम मिलता है.

d) भुनी हुई फिटकरी = 10 ग्राम, भुना हुआ तूतिया = 5 ग्राम एवं कत्था = 10 ग्राम, इस अनुपात में कूट पीसकर मंजन बना लें. इस मंजन के नित्य इस्तेमाल करने से दाँतों की पीड़ा दूर होती है और दाँत मजबूत तथा सुदृढ़ होते हैं.

२/. जिन लोगों को शरीर से ज्यादा पसीना आने की समस्या हो तो पानी में फिटकरी घोलकर नहाएँ, पसीना आना कम हो जाता है.

३/. सर्दियों के समय में पानी में ज्यादा काम करने से हाथों की उंगुलियों में सूजन या खुजली हो जाती है. इससे बचने के लिए थोड़े पानी में अंदाजन थोड़ी सी फिटकरी डालकर उबाल लें.इस पानी द्वारा उंगलियाँ धोने से सूजन और खुजली में काफी आराम मिलता है.

४/. यदि चोट या खरोंच लगकर घाव हो गया हो और उससे खून बह रहा हो तो घाव को फिटकरी के पानी से धोने के बाद उस पर फिटकरी का चूर्ण बुरकने से खून बहना बंद हो जाता है.

५/. डेढ़ ग्राम फिटकरी पाऊडर को फाँककर ऊपर से सादा अथवा हल्दीयुक्त दूध पीने से चोट-दर्द दूर होता है.

६/. टॉन्सिल की समस्या होने पर एक गिलास गर्म पानी में चुटकी भर फिटकरी, चुटकी भर हल्दी चूर्ण और एक चम्मच नमक डालकर गरारे करें. इससे टॉन्सिल की समस्या में जल्दी आराम मिलता है.

७/. दस्त और पेचिश की परेशानी से बचने के लिए 1-2 चुटकी भुनी हुई फिटकरी को गुलाबजल के साथ मिलाकर पीने से खूनी दस्त आना बंद हो जाते हैं.

८/. एक लीटर पानी में 10 ग्राम फिटकरी का चूर्ण घोल लें. इस घोल से प्रतिदिन सिर धोने से सिर के जुएँ मर जाते हैं.

९/. सेविंग करने के बाद चेहरे पर फिटकरी लगाने से चेहरा मुलायम हो जाता है और यह एंटीसेप्टिक के रूप में ब्लेड के घाव से चेहरे की रक्षा भी करती है.

१०/. a) आधा ग्राम पिसी हुई फिटकरी को शहद में मिलाकर चाटने से दमा और खाँसी में बहुत लाभ मिलता है.

b) गर्म तवे पर फुलाई हुई फिटकरी 10 ग्राम और मिश्री 20 ग्राम इन दोनों को महीन पीसकर रख लें. करीब एक ग्राम मात्रा नित्य सवेरे खाने से दमा रोग में लाभ होता है.

११/. भुनी हुई फिटकरी 1-1 ग्राम सुबह-शाम पानी के साथ लेने से खून की उल्टी बंद हो जाती है.

१२/. कान में फुँसी अथवा मवाद हो तो फिटकरी के पानी की 2-4 बूँदें कान में डालें काफी आराम मिलेगा.

१३/. शहद में फिटकरी मिलाकर काजल या सुरमा की भांति आँखों में आँजने से आँखों की लाली समाप्त हो जाती है.

१४/. त्वचा में खुजली वाली जगह को फिटकरी वाले पानी से धोकर उस जगह पर थोड़े से सरसों के कड़वे तेल का लेप लगाकर उसके ऊपर थोड़ा सा कपूर का चूर्ण डाल लें. काफी लाभ मिलता है.

गर्म पानी पीने के फायदे ye zarur padie or karie share

गर्म पानी पीने के फायदे

 


* अगर आप स्किन प्रॉब्लम्स से परेशान हैं या ग्लोइंग स्किन के लिए तरह-तरह के कॉस्मेटिक्स यूज करके थक चूके हैं तो रोजाना एक गिलास गर्म पानी पीना शुरू कर दें। आपकी स्किन प्रॉब्लम फ्री हो जाएगी व ग्लो करने लगेगी।

* लड़कियों को पीरियड्स के दौरान अगर पेट दर्द हो तो ऐसे में एक गिलास गुनगुना पानी पीने से राहत मिलती है। दरअसल इस दौरान होने वाले पैन में मसल्स में जो खिंचाव होता है उसे गर्म पानी रिलैक्स कर देता है।

* गर्म पानी पीने से शरीर के विषैले तत्व बाहर हो जाते हैं। सुबह खाली पेट व रात्रि को खाने के बाद पानी पीने से पाचन संबंधी दिक्कते खत्म हो जाती है व कब्ज और गैस जैसी समस्याएं परेशान नहीं करती हैं।

* भूख बढ़ाने में भी एक गिलास गर्म पानी बहुत उपयोगी है। एक गिलास गर्म पानी में एक नींबू का रस और काली मिर्च व नमक डालकर पीएं। इससे पेट का भारीपन कुछ ही समय में दूर हो जाएगा।

* खाली पेट गर्म पानी पीने से मूत्र से संबंधित रोग दूर हो जाते हैं। दिल की जलन कम हो जाती है। वात से उत्पन्न रोगों में गर्म पानी अमृत समान फायदेमंद हैं।

* गर्म पानी के नियमित सेवन से ब्लड सर्कुलेशन भी तेज होता है। दरअसल गर्म पानी पीने से शरीर का तापमान बढ़ता है। पसीने के माध्यम से शरीर की सारे जहरीले तत्व बाहर हो जाते हैं।

* बुखार में प्यास लगने पर मरीज को ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए। गर्म पानी ही पीना चाहिए बुखार में गर्म पानी अधिक लाभदायक होता है।

* यदि शरीर के किसी हिस्से में गैस के कारण दर्द हो रहा हो तो एक गिलास गर्म पानी पीने से गैस बाहर हो जाती है।

* अधिकांश पेट की बीमारियां दूषित जल से होती हैं यदि पानी को गर्म कर फिर ठंडा कर पीया जाए तो जो पेट की कई अधिकांश बीमारियां पनपने ही नहीं पाएंगी।

* गर्म पानी पीना बहुत उपयोगी रहता है इससे शक्ति का संचार होता है। इससे कफ और सर्दी संबंधी रोग बहुत जल्दी दूर हो जाते हैं।

* दमा ,हिचकी ,खराश आदि रोगों में और तले भुने पदार्थों के सेवन के बाद गर्म पानी पीना बहुत लाभदायक होता है।

* सुबह खाली पेट एक गिलास गर्म पानी में एक नींबू मिलाकर पीने से शरीर को विटामिन सी मिलता है। गर्म पानी व नींबू का कॉम्बिनेशन शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करता है।साथ ही पी.एच. का स्तर भी सही बना रहता है।

* रोजाना एक गिलास गर्म पानी सिर के सेल्स के लिए एक गजब के टॉनिक का काम करता है। सिर के स्केल्प को हाइड्रेट करता है जिससे स्केल्प ड्राय होने की प्रॉब्लम खत्म हो जाती है।

* वजन घटाने में भी गर्म पानी बहुत मददगार होता है। खाने के एक घंटे बाद गर्म पानी पीने से मेटॉबालिम्म बढ़ता है। यदि गर्म पानी में थोड़ा नींबू व कुछ बूंदे शहद की मिला ली जाएं तो इससे बॉडी स्लिम हो जाती है।

* हमेशा जवान दिखते रहने की चाहत रखने वाले लोगों के लिए गर्म पानी एक बेहतरीन औषधि का काम करता है।

40 Tips for Happy Health Life -

40 Tips for Happy Health Life -


Health:
1. Drink plenty of water.
2. Eat breakfast like a king, lunch like a prince and dinner like a beggar.
3. Eat more foods that grow on trees and plants, and eat less food that is manufactured in plants.
4. Live with the 3 E’s — Energy, Enthusiasm, and Empathy.
5. Make time for prayer and reflection
6. Play more games.
7. Read more books than you did in 2012.
8. Sit in silence for at least 10 minutes each day.
9. Sleep for 7 hours.

Personality:
10. Take a 10-30 minutes walk every day —- and while you walk, smile.
11. Don’t compare your life to others’. You have no idea what their journey is all about.
12. Don’t have negative thoughts or things you cannot control. Instead invest your energy in the positive present moment.
13. Don’t over do; keep your limits.
14. Don’t take yourself so seriously; no one else does.
15. Don’t waste your precious energy on gossip.
16. Dream more while you are awake.
17. Envy is a waste of time. You already have all you need.
18. Forget issues of the past. Don’t remind your partner with his/her mistakes of the past. That will ruin your present happiness.
19. Life is too short to waste time hating anyone. Don’t hate others.
20. Make peace with your past so it won’t spoil the present.
21. No one is in charge of your happiness except you.
22. Realize that life is a school and you are here to learn. Problems are simply part of the curriculum that appear and fade away like algebra class but the lessons you learn will last a lifetime.
23. Smile and laugh more.
24. You don’t have to win every argument. Agree to disagree.

Community:
25. Call your family often.
26. Each day give something good to others.
27. Forgive everyone for everything.
28. Spend time with people over the age of 70 & under the age of 6.
29. Try to make at least three people smile each day.
30. What other people think of you is none of your business.
31. Your job won’t take care of you when you are sick. Your family and friends will. Stay in touch.

Life:
32. Do the right things.
33. Get rid of anything that isn’t useful, beautiful or joyful.
34. Forgiveness heals everything.
35. However good or bad a situation is, it will change.
36. No matter how you feel, get up, dress up and show up.
37. The best is yet to come.
38. When you awake alive in the morning, don’t take it for granted – embrace life.
39. Your inner most is always happy. So, be happy.
Last but not least:
40. Enjoy LIFE!

वजन कम करने में लगे हैं और केला नहीं खाते, तो पढ़ें

वजन कम करने में लगे हैं और केला नहीं खाते, तो पढ़ें 

 

कई लोग वजन कम करते वक्‍त अपने आहार में केले को बिल्‍कुल भी अहमियत नहीं देते। वे सोंचते हैं कि केले में ढेर सारी कैलोरी होती है जो वजन बढ़ा सकती है। केला खाने के हैं इतने सारे स्‍वास्‍थ्‍य लाभ 

 मगर आपको यह सोंचना चाहिये कि जरुरत से ज्‍यादा कोई भी आहार खाने पर वजन बढ़ सकता है इसलिये केले को दोषी ना ठहराएं। अगर आप भी वजन घटाने में लगे हैं और केले से दूरी बना रहे हैं तो ऐसा ना करें। पहले नीचे दी गई जानकारी को पढ़ लें और फिर उचित कदम उठाएं...

क्‍या केले में शक्‍कर होती है?

 यह बात बिल्‍कुल सच है कि केले में ज्‍यादा कैलोरी उसमें मौजूद फ्रक्‍टोज (शक्‍कर) की वजह से ही होती है, पर इसके साथ उसमें ढेर सारा फाइबर भी होता है, जो हाई ब्‍लड शुगर को बढ़ने से रोकता है।

किस समय खाएं केला

 वर्कआउट करने के 10-15 मिनट पहले या बाद में केला खाने का सबसे अच्‍छा समय होता है। इस दौरान केले में मौजूद कार्बोहाइड्रेट्स शरीर को लंबे समय तक के लिये एनर्जी पहुंचाते हैं।

दिन में कितने केले खाएं

 दिन में दो केले खाने की सलाह दी जाती है। अगर आप इससे ज्‍यादा केले खाते हैं तो आपकी कैलोरीज़ बढ़ सकती हैं।

ऐसी हेल्थ केयर टिप्स जो जापान वाले भी करते हे उस्तमाल ब्लडप्रेशर कम करने के लिए इस ड्रिंक का सेवन करें

ऐसी हेल्थ केयर टिप्स जो जापान वाले भी करते हे उस्तमाल ब्लडप्रेशर कम करने के लिए इस ड्रिंक का सेवन करें

 

सौभाग्य से कई प्राकृतिक तरीके हैं जिससे ब्लडप्रेशर (रक्तचाप) को नियंत्रित किया जा सकता है। कई दशकों से लोग ब्लडप्रेशर को कम करने के लिए एक ड्रिंक का सेवन करते आ रहे हैं जो दो मुख्य पदार्थों दूध और लहसुन से मिलकर बना होता है।

आवश्यक सामग्री:

 1 टीस्पून मसला हुआ लहसुन

 1 कप दूध

 1 टीस्पून शहद (इच्छानुसार)

 विधि:

 सबसे पहले लहसुन की कलियों को मसलकर उसे 1 कप गुनगुने दूध में मिलाएं। यदि आपको लहसुन का स्वाद पसंद नहीं है तो शहद मिलाएं। सप्ताह में दो या तीन बार इस ड्रिंक को पीने से आपको आराम मिलेगा। इससे आपका ब्लडप्रेशर नियंत्रित रहेगा और आपके शरीर के कामों में भी सुधार होगा।


लम्बे घने और काले बाल पाने के लिए घरेलु नुस्खे

  लम्बे घने और  काले बाल पाने के लिए घरेलु नुस्खे




काले, सुंदर और चमकदार बाल नारी की सुंदरता मई चार चाँद लगा देते है. पुराने समय मई हेर के रख रखाव और निखार के लिए नारिया अनेक तरीके इस्तेमाल मई लाती थी, जिनसे वास्तव मई ही हेर काले, घने, मजबूत और चमकदार बनते थे. होमे रेमेडीस इन हिन्दी से आपके हेर की समस्या काफ़ी हद तक समाप्त हो जाएगी.

लोंग हेर के लिए सिर्फ़ अकचे उत्पादो का इस्तेमाल ही ज़रूरी नही है बल्कि हेर की सही देखरेख भी बहुत ज़रूरी है. कई बार महेंगे उत्पादो से हेर पोशाक तटवा हासिल करने के इस्तान पर समय से पूर्व टूट कर गिरने लगते है, साथ ही सफेद (वाइट) होने लगते है

इसके साथ ही उपयुक्त आहार का सेवन ना किया जाए तो भी बालो की ग्रोत रुक जाती है. घरेलू नुस्खे इन हिन्दी फॉर लोंग हेर से आप इन्न सभी समस्याऊ से छुटकारा पा सकते है जो की आपके लिए बहुत फयदेमंद होगा और फिर आप सुंदर दिखेगे.
.हरी सब्जियों के अधिक सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो जाता है 

पथरी बनने से रोके करेला

पथरी बनने से रोके करेला

 [ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]

एलोवीरा को चेहरे पर इस तरह मसाज करने पर पर चेहरे पर निखर आ जाता है

एलोवीरा को चेहरे पर इस तरह मसाज करने पर पर चेहरे पर निखर आ जाता है

एलोवीरा को चेहरे पर इस तरह मसाज करने पर पर चेहरे पर निखर आ जाता है 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]
हरी सब्जियों के अधिक सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो जाता है


हरी सब्जियों के अधिक सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो जाता है

हरी सब्जियों के अधिक सेवन करने से मोटापा बहुत जल्द कम हो  जाता है 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]
वजन घटाने के लिए आंवले का उपयोग


वजन घटाने के लिए आंवले का उपयोग

वजन घटाने के लिए आंवले का उपयोग

 

आंवला का सेवन करने से शरीर का वजन घटता है। इसलिए अब फटाफट अपनी डाइट में आंवला को शामिल करें। अांवला फल, शरीर के मेटाबोल्जिम को अच्‍छा बनाएं रखता है, क्‍योंकि यह प्रोटीन से भरपूर होता है। अगर आप अपनी प्रतिदिन की खुराक में आंवला को शामिल करते हैं तो आपके शरीर में पर्याप्‍त मात्रा में फाइबर पहुंचेगें।

आंवला किस प्रकार वजन घटाता है?

● अांवला फल, शरीर के मेटाबोल्जिम को अच्‍छा बनाएं रखता है, क्‍योंकि यह प्रोटीन से भरपूर होता है। अगर शरीर का मेटाबोल्जिम अच्‍छा होता है तो शरीर का एक्‍ट्रा फैट घट जाता है और शरीर का प्रोसेस सही बना रहता है। यह कब्‍ज को होने से रोकता है, पेट को हर दिन साफ करने में सहायक होता है। वजन घटाने के लिए किस प्रकार इस्‍तेमाल करें आंवला

● आंवला जूस :- 
अगर आपको आंवला खाने में कसैला लगता है तो आंवला का जूस निकालकर उसका सेवन करें। आप इसे एक बार निकालकर फ्रिज में रखकर चार दिन तक सेवन कर सकते हैं। लेकिन इसे पानी में मिलाकर पीना चाहिए। एक हिस्‍सा जूस और तीन हिस्‍से पानी को मिलाकर आवंला जूस का सेवन हर दिन करने से वजन घटता है और कमजोरी भी नहीं आती है।

● आंवला फल :- 
अगर आप अपनी प्रतिदिन की खुराक में आंवला को शामिल करते हैं तो आपके शरीर में पर्याप्‍त मात्रा में फाइबर पहुंचेगें, और आपकी पाचन क्रिया दुरूस्‍त रहेगी।

● सूखा आंवला :- 
चूंकि आंवला फल, साल के बारह महीनों नहीं मिलता है इसलिए इसे मौसम के दौरान सूखाकर रख लिया जाता है। इस सूखे हुए आंवला का सेवन भी कई तरीके से किया जा सकता है। इसे स्‍वादानुसार चीनी में पकाकर या अन्‍य तरीकों से खाया जा सकता है। वैसे घरों में आंवला का मुरब्‍बा भी बनाकर रखा जाता है जिसे हर दिन सुबह-सुबह खाने से शरीर को ऊर्जा और ताकत मिलती है। इतना जानने के बाद अब आपको अवश्‍य ही अपनी खुराक में आंवला को शामिल करना चाहिए।

चेहरे के दाग-धब्बे हटाने के नुस्खे :-

चेहरे के दाग-धब्बे हटाने के नुस्खे :-

 


इन घरेलू टिप्स में छिपे हैं चेहरे के दाग-धब्बे को हटाने के नुस्खे ।
यदि चेहरे पर दाग, मुंहासे से बिगड़ गया हो तो रोजाना पुदीने का पेस्ट का लेप करें एक माह तक, चेहरा सुंदर हो जायेगा।

कपूर को नारियल तेल के साथ मिलाकर मुँहासे के निशान पर लगाएँ और लगभग 10 मिनट बाद धो लें, यह कील मुहाँसों का कारगर इलाज है ।

तीन चम्मच राई थोड़े से पानी में भिगा दें सुबह पीसें इतना ही पानी डालें जो पेस्ट बन जाये चेहरे पर इसे लगायें 20 मिनट बाद धोलें कील मुंहासे मिट जायेंगे।

दो करेला को धो काटकर आधा गिलास पानी में उबालकर इस पानी को पीने से लाभ होगा।

चेहरे के काले दागों को मिटाने के लिए टमाटर के रस में रुई भिगोकर दागो पर मलें। काले धब्बे साफ हो जाएंगे।

रोजाना सुबह एक गिलास टमाटर के रस में नमक, जीरा, कालीमिर्च मिलाकर पीएं। चेहरे पर नारियल पानी लगाएं।

आलू उबाल कर छिलके छील लें और इसके छिलकों को चेहरे पर रगड़ें, मुहांसे ठीक हो जाएंगे।

जामुन की गुठली पानी के साथ घिसकर मुंहासों पर लगाने से मुंहासों में लाभ होगा

जायफल को घिसकर दस पिसी काली मिर्च व थोड़े कच्चे दूध में मिलाकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाएं। दो घंटे बाद चेहरा धो लें।

त्वचा पर जहां कभी चकते हो उन पर नींबू का टुकड़ा रगड़े। नींबू में फिटकरी भरकर रगड़े। इससे चकते हल्के पड़ जाएंगे और त्वचा में निखार आएगा।

नींबू के छिलके गर्दन पर रगडऩे से गर्दन का कालापन दूर होता है।

संतरे के छिलकों को सुखाकर पीस लें। इसमें नारियल का तेल व थोड़ा सा 
गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाने से त्वचा कोमल बन जाती है।

संतरे के छिलके व नींबू छिलके को बारीक पीसकर दूध में मिलाकर चेहरे पर लगाने से निखार आ जाता है।

मसूर की दाल और बरगद के पेड़ की नर्म पत्तियां पीसकर लेप करें अथवा दालचीनी पीसकर दूध की मलाई के साथ लगाएं।

मुहांसों के दाग-धब्बे चेहरे पर ज्यादा हो तो दही को उबटन की तरह इस्तेमाल करें।

गंजेपन का सफल इलाज

गंजेपन का सफल इलाज

 


लोग बालो कि समसया से काफ़ी परेशान हैं. 
जैसे की बाल झड़ना या बाल रहना ही ना, तो उन सबके लिए एक बहुत ही आसान सा उपाय 

कनेर के 60-70 ग्राम पत्ते (लाल या पीली दोनों में से कोई भी या दोनों ही एक साथ ) ले के उन्हें पहले अच्छे से सूखे कपडे से साफ़ कर लें ताकि उनपे जो मिटटी है वो निकल जाये.,. अब एक लीटर सरसों का तेल या नारियल का तेल या जेतून का तेल ले के उसमे पत्ते काट काट के डाल दें. अब तेल को गरम करने के लिए रख दें. जब सारे पत्ते जल कर काले पड़ जाएँ तो उन्हें निकाल कर फेंक दें और तेल को ठण्डा कर के छान लें और किसी बोटल में भर के रख लें.....

पर्योग विधि :- रोज़ जहाँ जहाँ पर भी बाल नहीं हैं वहां वहां थोडा सा तेल ले के बस 2 मिनट मालिश करनी है और बस फिर भूल जाएँ अगले दिन तक. ये आप रात को सोते हुए भी लगा सकते हैं और दिन में काम पे जाने से पहले भी... 
बस एक महीने में आपको असर दिखना शुरू हो जायेगा. सिर्फ 10 दिन के अन्दर अन्दर बाल झड़ने बंद हो जायेंगे या बहुत ही कम. और नए बाल भी एक महीने तक आने शुरू हो जायेंगे.

नोट : ये उपाय पूरी तरह से tested है.. हमने कम से कम भी 10 लोगो पे इसका सफल परीक्षण किया है. एक औरत के 14 साल से बाल झड़ने बंद नहीं हो रहे थे. इस तेल से मात्र 6 दिन में बाल झड़ने बंद हो गये. 65 साल तक के आदमियों के बाल आते देखे हैं इस प्रयोग से जिनका के हमारे पास data भी पड़ा है.. आप भी लाभ उठायें और अगर किसी को फरक पड़े तो जरुर बताये.

धन्यवाद ...
नोट :- पीले पत्ते वही ले जो पेड़ पर पक कर पीले हो जाये . पीले होने के बाद वो थोड़ा लाल भी हो जाते है , वो भी ले सकते है.

पैरों में दर्द के लिए घरेलू उपचार (Home remedies for pain in legs)

पैरों में दर्द के लिए घरेलू उपचार (Home remedies for pain in legs)

 

● क्या आपके पैरों में दर्द रहता है और कमजोरी महसूस होती है? और दर्द होने पर आप अक्‍सर पेनकिलर दवाओं का सहारा लेते हैं। तो आप पेनकिलर दवाओं की जगह पैरों में दर्द को दूर करने के लिए यहां दिये घरेलू उपचार को अपना सकते हैं।

1) पैरों में दर्द
पैरों में दर्द एक आम बीमारी है, जो जीवन के एक बिंदु पर आकर किसी को भी प्रभावित कर सकती है। यह पैरों की उंगलियों, एड़ी, तलवे और टखने सहित पैरों में कहीं भी हो सकता है। कई कारणों से पैरों में दर्द की समस्‍या हो सकती है। जैसे उम्र, असहज जूते पहनना, बहुत ज्‍यादा चलना या लंबे समय तक पैरों पर खड़े होने, आहार में मिनरल की कमी, अंतर्वर्धित टोनेल, डायबिटीज और अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या। कुछ घरेलू उपचार आपके पैरों की देखभाल करने में बहुत फायदेमंद होते हैं। आप पैरों में दर्द को दूर करने के लिए यहां दिये घरेलू उपचार को अपना सकते हैं।

2) हॉट एंड कोल्‍ड वॉटर थेरेपी :- 
हॉट एंड कोल्‍ड वॉटर थेरेपी पैर में दर्द के इलाज के लिए एक कारगर तरीका है। हॉट वॉटर ट्रीटमेंट ब्‍लड फ्लों को बढ़ावा देने और कोल्‍ड ट्रीटमेंट सूजन को कम करने में मदद करता है। दो पानी की बाल्‍टी लें एक में ठंडा पानी और दूसरें में सहने करने योग्‍य गर्म पानी डालें। अपने पैरों को तीन मिनट गर्म पानी की बाल्‍टी में डालें और तीन मिनट के बाद अपने पैरों को 10 सेकंड के लिए ठंडे पानी की बाल्‍टी में डालें। इस प्रक्रिया को 2-3 बार दोहराये। लेकिन ध्‍यान रहें कि आप गर्म पानी से शुरूआत और ठंडे पानी पर समाप्‍त करें। आप पैरों में दर्द को कम करने के लिए 10 मिनट के लिए बारी-बारी गर्म और ठंडा पैक भी लगा सकते हैं।

3) सिरका :- 
सिरका, सूजन, मोच या ऐंठन के कारण होने वाले पैरों में दर्द का कारगर इलाज है। गर्म पानी की एक बाल्‍टी में दोब बड़े चम्‍मच सिरके और एक छोटा चम्‍मच नमक या सेंधा नमक मिलाये। फिर इसमें अपने पैरों को लगभग 20 मिनट के लिए डूबों दें।

4) सेंधा नमक :- 
सेंधा नमक एक और प्रभावी घरेलू उपाय है, जो पैरों के दर्द से तत्‍काल राहत प्रदान करने में मदद करता है। गर्म पानी के एक टब में 2-3 बड़े चम्‍मच सेंधा नमक के मिलाकर, इसमें अपने पैरों को 10 से 15 मिनट के लिए डालें। फिर अपने पैरों को ड्राईनेस से बचाने के लिए उनपर मॉश्‍चराइजर लगाये।

5) बर्फ :- 
आइस थेरेपी भी दर्द और पैरों की सूजन को कम करने का एक प्रभावी तरीका है। एक छोटे से प्लास्टिक की थैली में कुचले बर्फ के कुछ टुकड़े डाले और दर्द को दूर करने के लिए सर्कुलर मोशन में प्रभावित हिस्‍से की मालिश के लिए उपयोग करें। इससे सूजन को कम करने में भी मदद मिलेगी। लेकिन ध्‍यान रखें कि आइस पैक का उपयोग एक समय में 10 मिनट से अधिक तक न करें क्‍योंकि यह त्वचा और नसों को नुकसान पहुंचा सकता है। 

6) लौंग का तेल :- 
लौंग का तेल सिरदर्द, जोड़ों के दर्द, एथलीट फुट, नेल फंगस और पैरों के दर्द को दूर करने वाला एक अद्भुत तेल है। तुरंत राहत पाने के लिए लौंग के तेल का इस्‍तेमाल पैरों में धीरे-धीरे मालिश करने के लिए करें। मसाज रक्‍त के प्रवाह को उत्‍तेजित करता है और मांसपेशियों को आराम देता है। पैरों में दर्द की समस्‍य से जल्‍द राहत पाने के लिए एक दिन में कई बार मालिश करें।

7) तेजपात :- 
अगर आपको दबाव, मोच या चोट के कारण पैरों में दर्द का अनुभव हो रहा हैं, तो आप परेशानी से राहत पाने के लिए तेजपात का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा यह पैरों की दुर्गंध को दूर करने में मदद करता है। एक कप सेब के सिरके में एक मुट्ठी तेजपात मिलाकर कुछ मिनट के लिए उबाल लें। अब सूती कपड़े की मदद से दर्द वाले हिस्‍से पर लगाये। पैर में दर्द ठीक होने तक इस उपाय को दनि में कई बार दोहराये।

8) सरसों के बीज :- 
सरसों के बीज का इस्‍तेमाल शरीर से विषाक्त पानी निकालने, रक्त परिसंचरण में सुधार करने और सूजन को कम करके पैर में दर्द के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। कुछ सरसों के बीज लेकर, पीस लें और फिर इन्‍हें गर्म पानी की एक बाल्टी में मिलाये। अपने पैरों को इस पानी में 10 से 15 मिनट के लिए डालें।

आँखों की रौशनी तेज करने के उपाय

आँखों की रौशनी तेज करने के उपाय

 

ईश्वर की बनायी गयी इस दुनिया को दखने का माध्यम केवल हमारी ऑंखें ही है और इनको उम्र के पड़ाव के साथ देखभाल की भी नितांत आवयकता होती है क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ हमारी आँखों के चारो तरफ क मांसपेशियां ढीली पड़ने लगती है और हमारी आँखें कमजोर हो जाती है। आंखों की रौशनी हमारे आहार और जीवनशैली पर भी निर्भर करती है।
हम यहाँ पर आपको आँखों की देखभाल और उसकी रौशनी बढ़ाने के कुछ आसान से उपाय बता रहे है ।

* सुबह उठकर मुहँ में पानी भरकर आँखें खोलकर साफ पानी के छीटें आँखों में मारने चाहिए इससे आँखों की रौशनी बढ़ती है ।

* प्रातः खाली पेट आधा चम्मच ताजा मक्खन, आधा चम्मच पसी हुई मिश्री और 5 पिसी काली मिर्च मलाकर चाट लें, इसके बाद कच्चे नारीयल की गिरी के 2-3 टुकड़े खूब चबा-चबाकर खाये और ऊपर से थोड़ी सौंफ चबाकर खा लें फिर दो घंटे तक कुछ भी न खाये। यह क्रिया 2-3 माह तक जरूर करिये ।

* बालों पर रंग, हेयर डाई और केमीकल शैम्पू लगाने से परहेज करें ।

* रात को 1 चम्मच त्रिफला मिट्टी के बर्तन में भिगाकर सुबह छाने हुए पानी से आँखें धोयें। इससे आँखों की रोशनी बढ़ती है और कोई बीमारी भी नहीं होती है।

* प्रातःकाल सूर्योदय से पहले नियमित रूप से हरी घास पर 15-20 मिनट तक नंगे पैर टहलना चाहए। घास पर ओस की नमी रहती है नंगे पैर इस पर टहलने से आँख को तनाव से राहत मिलती है।और रौशनी भी बढ़ती है ।

* पैरों के तलवे की सरसों के तेल से नियमित मालिश करनी चाहिए । नहाने से 10 मिनट पूर्व पैरों के अंगूठों को सरसों के तेल से तर करने से आँखों की रौशनी लम्बे समय तक कायम रहती है ।

* पालक, पत्ता गोभी, हरी सब्जियाँ और पीले फल खाएं। विटामिन ए, सी और ई से भरपूर कई पीले फल हमारी आंखों के लिए फायदेमंद हैं। इसके अतिरिक्त पपीता, संतरा, नींबू आदि के सेवन से दिन की रोशनी में हमारे देखने की क्षमता बढ़ती हैं।

* आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए प्रतिदिन 1-2 गाजर खूब चबा-चबाकर खाएँ ।गाजर का रस निकालकर भोजन के घंटे भर बाद पिएँ।

* नियमित रूप से अंगूर खाएं, अंगूर के सेवन से रात में देखने की क्षमता बढ़ती है।

* 2 अखरोट और 3 हरड की गुठली को जलाकर उनकी भस्म के साथ 4 काली मिर्च को पीसकर उसका अंजन करने से आँखों की रौशनी बढती हे।

* 10 ग्राम छोटी हरी इलाइची , 20 ग्राम सौंफ के मिश्रण को महीन पीस लें। एक चम्मच चूर्ण को दूध के साथ नियमित रूप से पीने से आंखों की ज्योति अवश्य ही बढ़ती है।

* अनार के 5 से 6 पत्ते को पीस कर दिन में 2 बार लेप करने से दुखती आँख में लाभ होता हे और रौशनी भी बढ़ती है ।

* 300 ग्राम सौंफ को अच्छे से साफ करके कांच के बर्तन में रख ले अब बदाम और गाजर के रस से सौंफ को तीन बार भगोएँ जब सुख जाए तो इसे रोज रात दूध के साथ लें इससे भी आँखों की रोशनी बढ़ती है ।

* सूखें आँवले को रात में पानी में अच्छी तरह धोकर भिगो दें फिर दिन में 3 बार इसे रुई से आँखों में डालें और आँवले का ज्यादा ज्यादा किसी ना किसी रूप में अपने खाने / पीने में अवश्य ही प्रयोग करें। 3 माह के अंदर ही चश्मा उतर जायेगा ।

* प्रतिदिन भोजन के साथ 50 से 100 ग्राम मात्रा में पत्तागोभी के पत्तों का सलाद बारीक कतर कर, इन पर पिसा हुआ सेंधा नमक और काली मिर्च डालकर खूब चबा-चबाकर खाएँ।

* आंखों की स्वस्थ्यता के लिए अच्छी नींद जरूरी है, नहीं तो आंखों के नीचे काला घेरा पड़ जाता है और रोशनी भी कम होती है।

* जब आँख भारी होने लगे नींद का समय हो जाए तब जागना उचित नहीं। सूर्योदय के बाद सोये रहने, दिन में सोने और रात में देर तक जागने से आँख पर बुरा प्रभाव पड़ता है और धीरे-धीरे आँखे रुखी और बेजान होने लगती है

* लगातार, बिस्तर पर लेट कर और यात्रा के दौरान पढ़ना नहीं चाहिए। पढ़ाई के समय आंखों को पर्याप्त विश्राम दें। अतिरिक्त सूर्य की और भी टकटकी लगाकर नहीं देखना चाहिए।

* आंखों की रोशनी तेज करने के लिए अपनी डाइट में प्याज और लहसुन को जरूर शामिल करें। इनमें सल्फर होता है जो आंखों के लिए ग्लूटाथाइन नामक एंटीऑक्सीडेंट तैयार करता है, जिससे नेत्रों की ज्योति बढ़ती है ।

* सोया व इसके उत्पाद में फैट्स बहुत कम व प्रोटीन बहुत अच्छी मात्रा में होता है। इसमें जरूरी फैटी एसिड, विटामिन ई व कई जरूरी तत्व होते हैं जो आंखों के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। * बालों पर रंग, हेयर डाई और केमीकल वाले शैम्पू नहीं लगाना चाहिए इसका भी बुरा असर हमारी आँखों पर पड़ता है ।

* लगातार टीवी देखने से आंखों की ज्योति घटती है क्योंकि टीवी से निकलने वाली घातक किरणे हमारी आँखों को बहुत ज्यादा नुकसान पहुँचती है। कभी भी बहुत पास या बहुत दूर और लेटकर भी टीवी नहीं देखना चाहिए

Sunday, 29 May 2016

वजन कम करने के लिए डेटॉक्स डाइट प्लान

वजन कम करने के लिए  डाइट प्लान 




आज के समय मई मोटापा एक बड़ी समस्या बन गया है. हर चौथा व्यक्ति अपने बढ़ते वजन को लेकर परेशन है. अपने वजन को कम करने के लिए लोग व्यायाम करते है. व्यायाम को करने से वजन तो कम होता है लेकिन इसमे काफ़ी वक्त लगता है. जिसके चलते लोग बीच मई ही अपने वजन कम करने के लक्ष्या को छ्चोड़ देते है.

इसके अतिरिक्त कई बार तो आएसा होता है की आपका शरीर व्यायाम का आदि हो जाता है और व्यायाम से भी वजन कम होना रुक जाता है. आएसए मई कुछ डाइयेट प्लॅन्स की मदद से आप अपना वजन कम कर सकते है.

आजकल डीटॉक्स डाइयेट प्लान काफ़ी चलन मई है. इश्स डाइयेट प्लान को तब किया जाता है जब आप वजन कम करना चाहते है लेकिन आपका वजन कम नही हो पा रहा है. इश्स डाइयेट प्लान के ज़रिए आप 1 हफ्ते मई भी वजन कम कर सकते है.
इन चीजो का अधिक से अधिक सेवन करने से पेट की चर्बी बहुत जल्द कम हो जाती है

खासी जुकाम का अचूक उपचार

खासी जुकाम का अचूक उपचार 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]

कब्ज को दूर करें दही

कब्ज को दूर करें दही



कब्ज को दूर करें दही


[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]
पेट फूलने पर घरेलु उपचार

घुटनो का दर्द के लिए घरेलु नुस्खे

घुटनो का दर्द के लिए घरेलु नुस्खे 

[ मित्रो आगे भी जरूर पढ़िए ]
फ्लेट टमी पाने के लिए आसान टिप्स