Friday, 30 September 2016

बाबा रामदेव ने बताएं चिकनगुनिया-डेंगू से बचने के आसान और कारगर घरेलू उपाय, जरूर अपनाएँ और शेयर करे

बाबा रामदेव ने बताएं चिकनगुनिया-डेंगू से बचने के आसान और कारगर घरेलू उपाय, जरूर अपनाएँ और शेयर करे

 

चिकनगुनिया और डेंगू :
देश के कई शहर चिकनगुनिया के चपेट में आ गए है। अब लोगों को नार्मल बुखार आने पर भी लगने लगा है कि उनहें कहीं चिकनगुनिया या फिर डेंगू तो नहीं है। योग गुरु रामदेव क कहना है कि चिकनगुनियया होने पर आपको डरने की जरुरत नहीं है। इसके लिए प्रिवेंटिव तरीके अपनाने चाहिए। इसे आप घर में ही कुछ उपाय अपना कर आसानी से इस बीमारी से निजात पा सकते हैबाबा रामदेव के अनुसार चिकनगुनिया उन लोगों को होता है। जिन लोगों की इम्यूनिटी सिस्टम बहुत कमजोर होता है। इस बीमारी से मौत ब्लड प्रेशर कम होना, प्लेटलेट की संख्या पर गिरावट आना, लीवर वीक होने के कारण होती है।
अगर आप चाहते है कि आपको इस समस्याओं से नहीं गुजरना पड़े। जो कि आपकी मौत का कारण बनें तो इसके लिए आप गियोल, अनार, पपीतेके पत्ते, एलोवेरा आदि का सेवन करेँ। जानिए बाबारामदेव ने चिकनगुनिया से बचने के क्या उपाय बताएं।
ऐसे बचें चिकनगुनिया और डेंगू से
डेंगू और चिकनगुनिया एक ही मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर हमेशा साफ पानी में ही पनपता है। इसलिए घर में थोड़ा साभी पानी एकत्रित न होने देँ। इससे आप इस बीमारी से बच सकते है।
बच्चों और महिलाओं का होता है इम्यून सिस्टम सबसे कमजोर :
बाब रामदेव ने बताया कि डेंगू और चिकनगुनिया के मच्छर कमजोर लोगों को अपना शिकार जल्दी बना लेता है। जिसके कारण उनको यह बीमारी जल्दी हो सकता है, क्योंकि इनके इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर होता है।
आसान और कारगर घरेलु उपाय :
1.अगर आपको चिकनगुनिया या डेंगू हो गया हो, तो गिलोय के पत्ते की डंडी तोड़ कर उनके पत्ते के साथ रस निकालकर पीएं। इससे हर दो घंटे में एक-एक चम्मच पीएं। इसका सेवन करना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।
2.अनार का जूस भी चिकनगुनिया और डेंगू के लिए फायदेमंद है। इस बीमारी का असर सीधे आपके पेट पर पड़ता है। इसलइए इसका सेवन करने आपके लीवर को बहुत लाभ मिलेगा।
3.डेंगू और चिकनगुनिया के लिए पपीते का पत्ता भी इस्तेमाल किया जा सकता है औऱ पीपता खाना भी फायदेमंद होता है।
4.इस बीमारी में पपीता, एलोवीरा, गेहूं और ज्वार के रस का उपयोग करना भी फायदेमंद होगा।

सेब के छिलकों के 8 अद्भुत फायदे जान हैरान रह जायेंगे आप, जरूर पढ़े और शेयर करे

सेब के छिलकों के 8 अद्भुत फायदे जान हैरान रह जायेंगे आप, जरूर पढ़े और शेयर करे

 

सेब के छिलको के 8 अद्भुत फायदे :
1.कैंसर से करें बचाव : सेब के छिलके में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो आपको कैंसर से बचाता है। एक शोध के अनुसार एंटीऑक्सीडेंट्स कई तरह के कैंसर जैसे कि ब्रेस्ट कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर आदि से बचाव करते हैं।
2.मोटापा घटाएं : सेब के छिलके में एंजाइम पाए जाते है जो कि उर्सोलिक एसिड कहलाते है। यह आपका वजन कम कराने में मदद करते है। इसलिए अगर आपको अपना वजन कम करना है तो छिलके सहित सेब का सेवन करें।
3.दिल को रखें सेहतमंद : सेब के छिलकों में अधिक मात्रा में केर्सेटिन होता है, जो कि एक प्रकार का फ्लेवोनॉयड होता है। यह सिर्फ इनफ्लेमेशन कम करता है बल्कि इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट भी होते हैं। ये तत्व प्लेटलेट के जमाव को रोकता है जिससे कि धमनियों में थक्के नहीं बनते। दिल की मांसपेशियों को आराम भी मिलता है जिससे कि हार्ट अटैक का जोखिम ज्यादा नहीं होता है।
4.सेल डैमेज होने से रोके : सेब के छिलके फ्लेवोनॉइड्स रिऐक्टिव ऑक्सीजन स्पेसीज़ जैसे फ्री रेडिकल को नियंत्रित करते हैं और ऑक्सीजन से संबंधित सेल डैमेज, प्रीमैच्योर एजिंग से बचाव करते हैं। जिससे सेल डैमेज होने से बच जाते है।
5.अस्थमा के लिए फायदेमंद : सेब के छिलके में ऐसे तत्व पाए जाते है जो आपकी सांस की समस्या को ठीक रहता है। साथ ही आपके फेफड़े भी ठीक ढंग से काम करते है।
6.दिमाग बनाएं तेज : सेब के छिलके में ऐसे तत्व पाए जाते है जो आपके दिमाग के सेल को नष्ट होने से बचाता है। जिसके कारण आपका दिमाग हर काम में ठीक से लगता है।

7.डायबिटीज को करें कंट्रोल : 
इसके छिलके आपको डायबिटीज से भी बचाता है। जिसके कारण आपको ज्यादा समस्याओं का सामना नहीं करना पडेगा। 8.गॉलस्टोन की समस्या से दिलाएं निजात : सेब के छिलके में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जिससे स्टोन पित्त की थैली में जम नहीं पाता। यह बहुत ज्यादा कोलेस्ट्रॉल की वजह से जम जाते हैं जिन्हें सेब का छिलका दूर करता है।

ये 10 चीज़े खाने से डेंगू की औकात नही की वो आपको छू पाये, जरूर पढ़े और शेयर करे


ये 10 चीज़े खाने से डेंगू की औकात नही की वो आपको छू पाये, जरूर पढ़े और शेयर करे

 

आजकल देश के अनेक हिस्सों खासकर दिल्ली में डेंगू बहुत फैला हुआ है। डेंगू होने पर बुखार बहुत तेजी से बढता है और आपके शरीर में खून (Blood ) में प्लेटलेट्स (Platelets) कम होने लगते हैं। और साथ ही शरीर में कमजोरी बढ़ती चली जाती है।और कई बार तो यह जानलेवा भी हो सकती है।
यदि आप इससे बचे रहना चाहते है तो बॉडी (Body) की इम्यूनिटी इंप्रूव (Improve immunity) करना जरूरी है। आज हम आपको ऐसे ही 10 फूड्स के बारे में जानकारी दे रहे हैं जिन्हें खाने से डेंगू का मच्छर यदि काट भी लेता है तो प्लेटलेट्स (Platelets) की संख्या कम नहीं होगी।
आइये जाने इन 10 चीज़ों के बारे में जो डेंगू से शरीर की रक्षा करती है1.कद्दू का सेवन : कद्दू में विटामिन अ और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है जिस कारण शरीर की इम्यूनिटी इंप्रूव (Improve immunity) होती है और डेंगू से बचाव होता है।
2.नारियल पानी : अपने दैनिक जीवन में कम से कम 1 नारियल पानी जररू पियें क्योंकि इसमे एलेक्ट्रोलाईट (Elektrolait) होते हैं जो आपके (Platelets) बढ़ाते हैं।
3.अदरक का सेवन : अदरक का सेवन जरुर करें चाहे सब्जी में चाहे थोडा सा टॉफ़ी जितना चूस लीजिये इसमें एंटी बैक्टीरियल (Anti-Bacterial) गुण होते हैं जो डेंगू के असर से बचाते हैं।
4.पालक का सेवन : अपने भोजन में एक समय 1 कटोरी पालक की सब्जी के सेवन जरुर करें क्योंकि इसमे विटामिन के परचुर मात्रा में होता है जो खून (Blood ) में प्लेटलेट्स (Platelets) बढ़ाने में मदद करता है।
5.टमाटर का सेवन : टमाटर में विटामिन सी अधिक मात्रा में होता है जो आपको डेंगू के काटने से होने वाली कमजोरी को महसूस नहीं होने देता और एनर्जी भी देता है
6.तुलसी : तुलसी का सेवन भी आपकी डेंगू से रक्षा करता है इसमे एंटी बैक्टीरियल (Anti-Bacterial) गुण होते हैं जो शरीर की इम्यूनिटी (Immunity) को बढ़ाते हैं।
7.संतरा या आंवला : रात को सोते समय किसी मिट्टी का बर्तन या कांच के बर्तन में थोडा सा सुखा आंवला पानी में भिगो दें और सुबह खली पेट उस पानी को छान कर पी लें आपकी इम्यूनिटी (Immunity) पॉवर बढ़ जायेगी क्योंकि आंवला और संतरा दोनों ही विटामिन सी से भरपूर हैं या एक गिलास संतरे का जूस हर रोज़ पियें।
8.हल्दी का सेवन : हल्दी में करक्यूमिन (Circumin) होता है जो हमारी बॉडी का मेटाबोलिज्म (Metabolism) बढाता है जिस से डेंगू से बचाव होता है।
9.कीवी फल : कीवी में सभी फलो के मुकाबले ज़्यादा विटामिन (Vitamin) पाये जाते हैं, जिस कारण इसे विटामिन (Vitamin)का राजा भी कहते हैं। कीवी फाइबर(Fiber), विटामिन ई (vitamin E ), विटामिन सी (vitamin C) , एंटीआक्सीडेंट्स(antioxidants) , फ़ोलिक एसिड (folic acid), कैरोटेनाइड्स (Krotenoids) और कई प्रकार के मिनिरल्स भी पाये जाते हैं जो डेंगू में हमारे शरीर के लिए अमृत समान है।
10.मेथी के पत्ते : मेथी के पत्ते बुखार कम करने में सहायता करते हैं।और आसानी से नींद लाने में मदद करते हैं। मेथी की पत्तियों को पानी में भिगोकर उसका पानी पीया जा सकता है। या इसके स्थान पर मेथी पाउडर को भी पानी में घोलकर पी सकते हैं।

झूमर की तरह लटकते पेट को कीजिये मैदान की तरह सपाट, वो भी घर पर इस चमत्कारी उपाय से, जरूर पढ़े

झूमर की तरह लटकते पेट को कीजिये मैदान की तरह सपाट, वो भी घर पर इस चमत्कारी उपाय से, जरूर पढ़े

 

क्या आपका पेट ढ़ीला लटका हुआ है। जब आप चलते हैं या कुछ काम करते हैं, तो आपका पेट धीरे-धीरे झूलता और लटकता हुआ दिखाई देता है।
इसके कारण कभी-कभी आपको शर्मिंदगी भी झेलनी पड़ती है। कितनी भी कोशिश करने पर भी कोई खास सुधार नही हो रहा है! तो यहां दिया उपाय आपके लिए मददगार हो सकता है
पेट लटकने की मुख्य कारणों में हमारा दोषपूर्ण खानपान, शरीरिक परिश्रम का अभाव के अलावा गर्भावस्था है। सबसे बड़ा सवाल है कि क्या इसकी वजह स्वास्थ्य के प्रति हमारी लापरवाही है। लेकिन घबराएं नहीं आपके ढ़ीले पेट के लिए हमारे पास एक प्राकृतिक उपाय मौजूद है। जीं हां अदरक, नीबू और एलोवेरा का मास्क आपके ढ़ीले पेट को सही रूप देने में मदद कर सकता है।
अदरक एक थर्मोजेनिक एजेंट है, जो आपके शरीर के तापमान को बढ़ाता है और कसे मसल्स को खत्म करता है। हमारे शरीर के लिए नीबू का भी अहम रोल है। विटमिन सी उत्पादन में नींबू सबसे अच्छा माना जाता है। जो स्किन के लचीलेपन को दुरूस्त रखता है। इसके अलावा एलोवेरा में पाया जाना वाला मैलिक एसिड स्किन को टाइट करता है। इस पूरे मास्क पैक में शहद का बहुत अच्छा रोल है। यह एंटी एजिंग होने के साथ-साथ एंटी-ऑक्सीडेंट होता है, जो लचीले पेट को एक आकार देने में मदद करता है
आवश्यक सामग्री :
  1. 2 चम्मत अदरक का पाउडर
  2. 1 चम्मच प्योर एलोवेरा जेल
  3. 1 चम्मच शहद
  4. 1 चम्मच नीबू का रस
तैयार करने की विधि :
अदरक पाउडर, एलोवेरा जेल, शहद और नीबू को मिक्स कर लीजिए। इसे तक मिलाइए जब तक यह पूरी तरह से मिक्स न हो जाए। इसके बाद इसे आप अपनी त्वचा पर लगा सकते हैं।
प्रयोग विधि :
तैयार मास्क को नाभि के आस-पास लागाएं। 15 से 20 मिनट तक मास्क को लगा रहने दें। इसके बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। फिर साबुन के साथ ठंडे पानी से धोएं। इस मास्क के लगातार इस्तेमाल से एक माह के बाद आपको रिजल्ट दिखने लगेगा। हालांकि एक्सरसाइज करना न भूलें।
इसके अलावा लटके पेट की समस्या से बचने के लिए आपको सबसे पहले शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालना होगा। इसके लिए नमक और चीनी का सेवन करें। भोजन में विटामिन सी और ओमेगा -3 फैटी एसिड संबंधी खाना खाएं। यह हमारे शरीर के लचीलेपन को बनाएं रखता है। इसके अलावा सप्ताह में कम से कम तीन बार व्यायाम करें, जिसमें पेट की मजबूती और फैट कम करने वाले एक्सरसाइज पर ज्यादा ध्यान रहे। यह आपकी स्किन को मॉस्चुराइज करने के साथ पेट के ढ़ीलेपन को सही करेगा।

Slim trim रहने के टिप्स

होठों का कालापन दूर करने के लिए घरेलू नुस्खे

ओषधिया चाय के घरेलू नुस्खे

सलाद खाएं वजन घटाएं

मॉडल जैसा शरीर पाने के लिए आजमाइए यह घरेलू नुस्खा

Thursday, 29 September 2016

गुणकारी हरी मिर्च

गुणकारी हरी मिर्च

आँवला जूस बनाने की विधि

आँवला जूस बनाने की विधि

एलोवेरा के जूस के फायदे

हेल्थी स्किन के लिए गजब के घरेलू नुस्खे

वजन कम करने में सबसे आगे अनार

प्याज के घरेलू नुस्खे

स्किन के लिए आयुर्वेदिक आहार

घटाएं अपना वज़न इन नुस्खों को अपनाकर

करें खूबसूरती को कैद

मस्सों का प्रभाव एक बार जरूर जाने

सेहत के लिए फायदेमंद है करेले का जूस

बढ़ती तोंद को कम करने के लिए घरेलू नुस्खे

अब चेहरे की त्वचा रहेगी हमेशा जवान और खुशहाल